About us - Privacy Policy - Disclaimer - Contact us - Guest Posting - Income Reports

फर्मवेयर क्या है? Software और Firmware में क्या फर्क है?

दोस्तों क्या आप जानते है की फर्मवेयर क्या है? सॉफ्टवेअर क्या होता है? फर्मवेयर और सॉफ्टवेअर में क्या फर्क है? अगर नहीं तो आज हम यहाँ फर्मवेयर और सॉफ्टवेर के बारे में ही बात करने वाले है।

Software and Firmware Hindi

Difference Between Software and Firmware

आज हम जानेंगे की फर्मवेयर क्या है और सॉफ्टवेयर और फर्मवेयर में कौनसे फंक्शन एक जैसे है और कौनसे अलग है इसके बारे में भी विस्तार से बात करेंगे।

सबसे पहले सॉफ्टवेयर और फर्मवेयर क्या है इसके बारे में जान लेते है।

Software और Firmware क्या है हिंदी जानकारी

शायद आप जानते ही होंगे की सॉफ्टवेयर क्या है और ये किस लिए इस्तेमाल किया जाता है। फिर भी संक्षिप्त में जान लेते है की सॉफ्टवेयर किसे कहते है और इसका क्या काम होता है।

What is a Software?

जैसे की हम सब जानते है की किसी भी कोडिंग या प्रोग्रामिंग का इस्तेमाल करके किसी काम को अंजाम देने के लिए बनायीं गयी कुछ फाइल्स, प्रोग्राम्स और फंक्शन को मिलाकर जो बनता है उसे हम सॉफ्टवेअर कहते है।

सीधे शब्दों में बताना हो तो प्रोग्रामिंग और कोडिंग का उपयोग करके किसी ठरावीक काम को आसान बनाने के लिए बनाये गए कंप्यूटर ऍप्लिकेशन सेट को हम सॉफ्टवेयर कहते है।

एक सॉफ्टवेयर कंप्यूटर और यूजर में होने वाले इंटरैक्शन को आसान बनाने के काम आता है। आसान शब्दो में कहे तो सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से हम कंप्यूटर से अपना मनपसंद काम करवा सकते है।

सॉफ्टवेर का इस्तेमाल हम किसी भी काम को आसान तरीके से अंजाम देने के लिए करते है।

उदहारण के तौर पर मान लीजिए की मुझे कोई डॉक्यूमेंट बनाना हो तो मैं कंप्यूटर पर माइक्रोसॉफ्ट वर्ड सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करूँगा जो की एक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है।

सॉफ्टवेअर के सिस्टम सॉफ्टवेयर, ऍप्लिकेशन सॉफ्टवेयर और ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर जैसे कई प्रकार पड़ते है। हम ब्लॉग बनाने के लिए जो वर्डप्रेस प्लेटफॉर्म का उपयोग करते है वो भी एक open source software ही है।

सॉफ्टवेयर के प्रकार कौनसे और कितने है इसपर हम किसी और दिन बात करेंगे। फ़िलहाल हम फर्मवेयर क्या है और ये क्यों इस्तेमाल किया जाता है जिसपर ज्यादा बारीकी से चर्चा करेंगे।

What is a Firmware?

सॉफ्टवेयर के बारे में तो हमने जान लिया तो चलिए अब जानते हैं कि firmware किसे कहते हैं और फर्मवेयर का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है।

क्या आपने कभी सोचा है कि हम हर रोज जो इलेक्ट्रॉनिक चीजे इस्तेमाल करते है वो कैसे काम करती है?

जिस तरह सॉफ्टवेयर हमें कंप्यूटर से काम करवाने में मदद करता है उसी तरह फर्मवेयर हमें किसी मशीन से काम करवाने में मदद करता है।

हम जो भी इलेक्ट्रोनिक चीजें यूज़ करते हैं उसमें फर्मवेयर का उपयोग किया गया होता है  जिससे वह मशीन सही से काम करती है।

अब यह तो जान लिया की firmware कहां होता है और इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है। पर आखिर firmware क्या है?

तो दोस्तों जैसा हमारा कोई भी कंप्यूटर सॉफ्टवेयर होता है ना.. firmware भी उसी तरह का होता है मतलब की दोनों में फर्क है पर उनकी फंक्शनिंग लगभग एक जैसी ही होती है।

फर्क बस इतना होता है कि हम सॉफ्टवेयर के जरिए कंप्यूटर से अपना काम करवाते हैं और फर्मवेयर के जरिए किसी भी इलेक्ट्रॉनिक मशीन से..

अब आप कहेंगे कि कंप्यूटर भी तो एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन ही तो है पर दोस्तों यहां पर इलेक्ट्रॉनिक मशीन से मेरा मतलब है कि कोई भी ऐसी चीज जो बिजली से चलती हो और जिसका कोई एक ठराविक काम हो।

और कंप्यूटर का कोई एक स्पेशल काम नहीं है। हम कंप्यूटर के जरिए अलग-अलग काम कर सकते हैं जैसे डॉक्यूमेंट तैयार करना, गाने सुनना, वीडियो देखना, गेम खेलना, इंटरनेट चलाना आदि।

पर यह बात भी सही है कि कंप्यूटर पार्ट्स में भी कुछ हद तक फर्मवेयर का इस्तेमाल किया जाता है।

क्योंकि किसी भी मशीन के सही से काम करने के लिए उसमें जो कोडिंग मॉडल या प्रोग्राम फिट किया जाता है जो उस मशीन से कुछ स्पेशल काम करवा ले उसे हम फर्मवेयर कहते है।

For example – वाशिंग मशीन में firmware का इस्तेमाल किया गया होता है ताकि वह हमारे लिए उसका निश्चित काम मतलब कपड़े धोने का काम कर सके।

इसके अलावा भी firmware कई सारी चीजों में इस्तेमाल किया जाता है जैसे कूलर, हीटर, मिक्सर, मिक्सर, कैलकुलेटर आदि।

मुझे लगता है अब आपको अच्छी तरह से समझ आ चुका होगा कि फर्मवेयर क्या होता है और इसे क्यों इस्तेमाल किया जाता है और शायद आपको सॉफ्टवेयर और फर्मवेयर में क्या फर्क है यह भी समझ आया गया होगा। फिर भी हम एक नजर सॉफ्टवेयर और फर्मवेयर के बीच के फर्क पर भी डाल लेते हैं।

Software और Firmware में क्या फर्क है?

  • सॉफ्टवेयर मतलब प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इस्तेमाल करके बनाई गई कोडिंग फाइल्स का कलेक्शन होता है जिससे एक ब़डा प्रोग्राम बनता है उसे ही हम सॉफ्टवेयर कहते है। जब की firmware एक ऐसा मिनी प्रोग्राम होता है जो किसी स्पेसिफिक काम को अंजाम देने के लिए डिजाइन किया जाता है।
  • सॉफ्टवेयर को हम कंप्यूटर में manually इंस्टॉल कर सकते हैं और अनइंस्टॉल भी कर सकते हैं पर फर्मवेयर को हम इंस्टॉल करने के बाद सिर्फ अपग्रेड या डाउनग्रेड कर सकते हैं पर अनइंस्टॉल नहीं कर सकते।
  • अगर हम कंप्यूटर में से कोई सॉफ्टवेयर अनइंस्टॉल कर दे तो भी कंप्यूटर के काम पर कोई खास फर्क नहीं पड़ता है पर वही दूसरी तरफ अगर हम किसी तरह से मशीन से फर्मवेयर को अनइंस्टाल या रिमूव कर दे तो वह मशीन किसी काम की ही नहीं रहेगी।
  • आसान शब्दों में कहा जाए तो सॉफ्टवेयर के बिना कंप्यूटर चल सकता है पर फर्मवेयर के बिना मशीन बिल्कुल नहीं चल सकती।
  • For example – अगर हम कंप्यूटर से फोटोशॉप निकाल दे तो भी हम कंप्यूटर के बाकी सभी फीचर्स का उपयोग कर सकते है पर अगर हम किसी वैक्यूम क्लीनर से firmware निकाल दे तो वो किसी काम का नहीं रहेगा।
  • हम बिना किसी हार्डवेयर का उपयोग किए एक सॉफ्टवेयर से दूसरा सॉफ्टवेअर बना सकते है पर हम किसी मशीन में एक फर्मवेयर से दूसरा फर्मवेयर नहीं बना सकते।

ये भी पढ़े –

    तो दोस्तों अब आप firmware और software में क्या फर्क है यह बात समझ गए होंगे। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें ईमेल से फ्री में सब्सक्राइब करना ना भूले।

    Keywords –

    what is firmware, software kya hai, firmware kya hai, firmware aur software me kya fark hai , difference between firmware and software hindi

    Subscribe Us Via Email

    Content Delivery By Success Veda

    Comments

    1. Reply

    2. By raj

      Reply

      • By Vishnu Kant Maurya

        Reply

        • By raj

          Reply

          • Reply

            • By raj

    3. By Varun

      Reply

    4. By Nitin

      Reply

      • Reply

    5. By Rohaan

      Reply

    6. Reply

      • Reply

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *