About us - Privacy Policy - Disclaimer - Contact us - Guest Posting - Income Reports

Group Blogging Case Study : ग्रुप ब्लॉगिंग के फायदे और नुकसान

दोस्तों आज मैं बहुत ही मजेदार टॉपिक पर बात करने जा रहा हूँ। ये पोस्ट पढ़कर आप भी अपने ब्लॉगिंग carrier को speed up कर सकते है।

आज के इस पोस्ट में हम Group Blogging क्या है? इसके क्या advantage और क्या disadvantages है?

क्या Group Blogging सुरक्षित है। या आज के जमाने मे Group blogging करने वाले ब्लॉगर मौजूद है। ग्रुप ब्लॉगिंग का भविष्य क्या है? और भी बहुत सारे सवाल आपके दिमाग मे घूम रहे होंगे।

अपने सारे सवालों के जवाब पाने के लिए इस पोस्ट को आखिर तक पढ़े। I’m sure की आपके सारे doubt clear हो जाएंगे।

Group-blogging-advantage-disadvantages

Group Blogging क्या है?

ग्रुप ब्लॉगिंग को समझने से पहले हमे ब्लॉगिंग क्या है? इसके बारे में जानना जरूरी है।

अगर आप इंटरनेट से संबध रखते है तो कभी ना कभी ब्लॉगिंग या bloggers के बारे में जरूर पढ़ा या सुना होगा।

फिर भी अगर आप नही जानते है तो बता दूँ की blog एक वैयक्तिक वेबसाइट की तरह होता है जहाँ हम हमारा talent लोगो के साथ share कर सकते है।

यह किसी fixed topic/niche पर या अलग-अलग topics पर भी हो सकता है।

ब्लॉग के author को Blogger कहते है। और लोगो को अपना talent अपने अंदाज में दिखाने के प्रक्रिया को blogging कहा जाता है। पर आज कल बहुत से लोग सिर्फ content copy paste करना या पोस्ट लिखना और पैसे कमाना इसको ही ब्लॉगिंग समझ बैठे है।

मुझे लगता है की अब आपको ब्लॉगिंग क्या है ये समझ आ गया होगा। तो चलिए अब हम बात करते है group blogging के बारे में…

What is Group Blogging In Hindi ?

जैसा की इसके नाम से ही पता चल रहा है की हम किसी Group या team की बात कर रहे है।

अगर मैं सीधे शब्दों में कहूँ तो “दो या दो से अधिक लोगो के एकसाथ मिलकर blogging करने को  group blogging कहते है।”

ग्रुप के ये members साथ मे पोस्ट या articles लिखने वाले, पोस्ट edit करने वाले, पोस्ट के लिए image डिज़ाइन करने वाले हो सकते है।

या फिर off page SEO को अंजाम देने के लिए ब्लॉग को social media पर promote करने वाले, Quality backlink के लिए दूसरे ब्लॉग पर comment या guest post करने वाले भी हो सकते है।

Blog design करने वाले या और भी तरीके से ब्लॉग से जुड़े रहने वाले लोगो के समूह को group blogging कहा जा सकता है।

अब आप group blogging के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे। तो अब हम बात करते है group blogging के फायदों की।

  • Group Blogging के Advantages/फायदे

Internet के इस युग मे हर रोज लाखो blog/website बनते है पर उनमें से सिर्फ मुट्ठी भर ब्लॉग ही अपने अस्तित्व को इंटरनेट पर बनाए रख पाते है।

और बाकी के ब्लॉग किसी कारन से successful ना होने की वजह से इंटरनेट की दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह देते है।

ब्लॉग को successful बनाने में एक ग्रुप या टीम का सबसे बड़ा योगदान होता है। मेरे कहने का मतलब यह नही है की आप अकेले blogging करके यशस्वी नही हो सकते।

Ofcourse आप अकेले भी ब्लॉगिंग करके एक successful blogger बन सकते है लेकिन अकेले work करने से successful होने में ज्यादा समय लग सकता है।

और हो सकता है अधिक समय लगने की वजह से आप बीच मे ही ब्लॉगिंग छोड़ दे। क्योंकि उस वक़्त आपको ब्लॉगिंग छोड़ने से रोकने वाला कोई नही होगा। इसलिए जो लोग ब्लॉगिंग को as a carrier के रूप में कर रहे है उनके लिए ग्रुप ब्लॉगिंग एक बेहतर ऑप्शन है।

  • Fast Progress

एक से भले दो… ये कहावत तो आपने सुनी ही होगी। ये बात blogging field में भी लागू होती है।

इसको हम एक example की मदद से समझने की कोशिश करते है।

मान लेते है की 2 लोग साथ मिलकर group blogging कर रहे है तो उनके द्वारा किया गया काम भी double होगा।

जैसे अगर आप अकेले दिन में एक पोस्ट लिखते हो तो आपका पार्टनर भी अगर एक पोस्ट लिखेगा तो दिन में 2 पोस्ट publish होंगी। इस तरह से आपका ब्लॉग 2x ज्यादा रफ्तार से आगे बढ़ेगा।

  • Traffic and Sharing 

किसी भी blog की जान उसका traffic होता है। अगर आपके ब्लॉग पर traffic नही ही तो ब्लॉग होने या ना होने से कोई फर्क नही पड़ता।

“जो दिखता है वो बिकता है। ”  यह बात ब्लॉगिंग में भी लागू होती है। जब daily लाखो के मात्रा में ब्लॉग बन रहे हो तो ऐसे में अपने ब्लॉग के बारे में लोगो को बताना भी अनिवार्य है। क्योंकि जब तक आपके ब्लॉग के बारे में लोगों को पता नही चलेगा तो वो visit कैसे करेंगे।

Sharing एक fast और effective तरीका है traffic बढ़ाने का…

Suppose आप अकेले promotion कर रहे हो और अगर आपके साथ आपकी टीम भी promotion कर रही हो तो फर्क पड़ेगा या नही.. बिल्कुल, जमीन-आसमाँ का फर्क पड़ेगा।

  • Mistake Correction

हमे अपनी गलतियाँ दिखाई नही देती है। खुद किया गया हर काम सही ही लगता है। चाहे वो गलत ही क्यों ना हो।

अगर हमें अपनी खुद की mistakes पता चल जाए तो हम उसे सुधार कर बहुत आगे जा सकते है। अगर आपकी गलतियाँ, खामियाँ बताने वाला कोई हो तो क्या होगा? स्वाभाविक सी बात है बहुत आगे जाएँगे।

ऐसे में अगर आपकी टीम है तो आपको अपनी गलतियों का पता आसानी से चल जाएगा। जिसे तुरंत सुधारा जा सकता है।

अगर life में गलतियों को तुरंत ही सुधार लिया जाएँ तो हम सोच भी नही सकते की हम life में कितनी उचाईयों को छू सकते है।

  • Updated Blog

जिंदगी में दुख सुख लगा रहता है। मान लेते हैं की आप कुछ दिनों के लिए बीमार हो गए या कोई बहूत जरूरी काम आ गया जिसके कारन आपका ब्लॉग update नही हो पाएगा।

और इसका बहुत ही bad effect आपके ब्लॉग पर भी देखने को मिलेगा। जब आपके visitors ब्लॉग पर कुछ नया नही होने के कारन धीरे धीरे visit करना छोड़ देंगे। ब्लॉग से किसी एक भी visitor का साथ छूटना बहुत दुख की बात है। ऐसे situatuon को group member आसानी से handle कर सकते है।

  • Discussion

ब्लॉग को आगे ले जाने के लिए group discussion बहुत जरूरी है। अकेले की सोच और एक टीम की सोच में बहुत ज्यादा फर्क होता है।

सभी के सोचने का तरीका अलग अलग होता है। कोई problem को solve करने में महीने लगा देता है तो किसी के लिए वही problem कुछ मिनट का या कुछ घंटों का काम हो सकता है।

  • Group Blogging Disadvantages/नुकसान

मेरी नजर में group blogging के कोई खास नुकसान नही है पर हम सब जानते है जिस तरह से एक सिक्के की दो बाजू होती है वैसे ही हर चीज की अच्छाई के साथ साथ बुराई भी होती है।

Group blogging के कुछ नुकसान भी है जो मैं नीचे बता रहा हूँ।

  • Partner selection

Group blogging का सबसे बड़ा problem होता है partner का चुनाव करना.. क्योंकि आपका partner जैसा होगा उसका सीधा असर आपके ब्लॉग पर होगा।

अगर आप एक सही group को choose करने में कामयाब होते है तो आपको एक successful blogger के list में शामिल होने से कोई नही रोख सकता।

और उसी के opposite, अगर आपका partner चुनाव गलत हो जाता है तो blogging carrier का अंत होने में भी समय नही लगेगा।

  • Time Management

कई बार ऐसा हो सकता है जब group किसी irrelevant मुद्दे को लेकर बहस छेड़ दे। ऐसे में बहुत ज्यादा समय बरबाद हो सकता है और बहुत महत्वपूर्ण समय gossips में निकल सकता है।

  • Mis-Understanding

Group में किसी को लेकर misunderstanding भी हो सकती है। और ये आपसी मतभेद आपके ब्लॉग को आसमान से जमीं पर कब लाकर पटक देगा आपको पता भी नही चलेगा।

  • Frequent Question Answer About Group Blogging

Q-  क्या Group Blogging safe है ?

A- बिल्कुल, group blogging safe है और group blogging से हम बहुत ही कम समय में successful हो सकते है पर अगर आप सही टीम का selection करते है तो…

Q- क्या आज के समय में group blogging करने वाले ब्लॉगर मौजूद है?

A- जी हाँ! इसका सबसे बड़ा example खुद सक्सेस वेद ही है। यह एक ग्रुप ब्लॉग है जो दो लोगों द्वारा चलाया जा रहा है। और इसका हमे बहुत अच्छा result मिला है। और भी बहुत सारे ब्लॉग जैसे Shoutmeloud पर भी group blogging होती है।

अगर आपका कोई सवाल है तो आप comment में पूछ सकते है। आपको जवाब जल्द ही दिया जाएगा।

  • Conclusion

Group blogging एक बेहतरीन ऑप्शन है ब्लॉगिंग में carrier बनाने के लिए। सिर्फ ब्लॉगिंग में ही नही किसी भी field में team work हमेशा फायदेमंद साबित होता है।

अगर आप सही टीम का चुनाव करते है तो भविष्य में आपको कोई problem नही आएगी लेकिन अगर आप टीम को choose नही कर सकते है तो हम आपको अकेले ही ब्लॉगिंग करने की सलाह देंगे। इसमें सफल होने में ज्यादा समय लग सकता है। इसलिए धैर्य रख कर ब्लॉगिंग करे।

Successful होना एक दिन का काम नही है। इसके लिए हमे अपने काम को पूरी ईमानदारी से निभाना पड़ता है।
.
ये भी पढ़े –

मैं आशा करता हूँ आपको group blogging के बारे में पढ़ कर जरूर कुछ ना कुछ नया सीखने को मिला होगा। अगर हाँ, तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर दोस्तो के साथ शेयर करे और बाकी ब्लॉगर्स को भी group blogging के फायदों और नुकसानों के बारे में जानने का मौका दे।

Subscribe Us Via Email

Content Delivery By Success Veda

Comments

  1. Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *